अब बंद होगी मिलनी Apple की Electric Car, जानें कारण

Telegram Group Join Now
Instagram Follow Now
WhatsApp Group Join Now
Rate this post

आज के समय में सबसे ज्यादा दुनिया इलेक्ट्रिक गाड़ियों के पीछे दीवानी हो रही है। इसी चीज को देखते हुए काफी सारी कंपनियां अपनी अपनी इलेक्ट्रिक गाड़ियां मार्केट में पेश करने लगी। एक से एक बड़ी मशहूर टेक कंपनियां अब इलेक्ट्रिक गाड़ियों में इन्वेस्ट कर रही है।

Apple Electric Car

Telegram Group Join Now
Instagram Follow Now
WhatsApp Group Join Now

एक मशहूर टेक कंपनी Apple द्वारा भी यह खबर आ रही थी कि वह जल्दी अपनी इलेक्ट्रिक गाड़ी मार्केट में पेश करने वाला है। लेकिन अभी कुछ समय पहले ही एक रिपोर्ट आई इसके हिसाब से Apple का अब ‘Project Titan’ बंद हो गया है। पिछले काफी सालों से चल रहे इस प्लान को ऑफीशियली अब बंद कर दिया गया है। साल 2024 के 27 फरवरी को इस प्लान पर रोक लगा दिया गया है।

बंद हुआ Apple कंपनी का ‘Project Titan’ 

आने वाले कुछ समय में ही एप्पल द्वारा एक इलेक्ट्रिक कर मार्केट में लांच होने वाली थी। लेकिन अब आपको बता दें कि इस प्रोजेक्ट को बंद कर दिया गया है। यह एक काफी बड़ा प्रोजेक्ट होने वाला था। जिसमें लगभग 2000 कर्मचारी को काम पर लगाया गया था।

Also Check:-Hayasa Nirbhar Electric Scooter: Affordable and Efficient Choice for Urban Commuters! 

वहीं इस टीम का नाम स्पेशल प्रोजेक्ट ग्रुप्स (SPG) रखा गया है। लेकिन इस प्रोजेक्ट के बंद होने से सभी कर्मचारियों को आप वापस लौटना पड़ेगा। केवल इन कर्मचारियों में से कुछ कर्मचारियों को ही आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस डिवीजन में भेजा गया है। आपको बता दें कि कंपनी अब अपना ध्यान इलेक्ट्रिक कार से हटाकर आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस पर ज्यादा काम कर रही है।

कब शुरुआत हुई थी प्रोजेक्ट टाइटन की?

एप्पल कंपनी द्वारा इस प्रोजेक्ट को तकरीबन 10 साल पहले यानी 2014 में शुरू किया गया था। दुनिया को इलेक्ट्रिक गाड़ियों के पीछे जाते हुए देख। यह भी अपनी एक इलेक्ट्रिक कार मार्केट में पेश करने वाली थी। 

इनका उद्देश्य यह था कि एक काफी प्रीमियम, हाय फीचर्स और परफॉर्मेंस वाली इलेक्ट्रिक गाड़ी बनाएंगे। उनकी गाड़ी पूरी तरह से ऑटोनॉमस होने वाली थी। इस प्रोजेक्ट को पूरा करने में कंपनी को काफी ज्यादा परेशानी को झेलना पड़ा। जिसके कारण से इस प्रोजेक्ट को अब बंद कर दिया गया है। इसके बाद अब इनका पूरा ध्यान आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस पर है।

आपको जानकारी के लिए बता दे की साल 2017 में कंपनी द्वारा सेल्फ ड्राइविंग टेस्ट किए गए। जिसमें वह हमेशा असफल रही और इतनी असफलता के बाद ही एप्पल कंपनी ने अपना प्रोजेक्ट टाइटन को हमेशा के लिए बंद कर दिया।

You May Also Like:-

Telegram Group Join Now
Instagram Follow Now
WhatsApp Group Join Now

Leave a Comment